USB क्या है और USB की फुल फॉर्म क्या है ? USB हिंदी में

0
72
What Is USB

what is USB in Hindi ?

दोस्तों आपने USB नाम तो सुना ही होगा और आप अपने फ़ोन को USB केबल से ही तो चार्ज करते होंगे . दोस्तों आपको USB क्या है और यह कैसे कार्य करती है यदि पता है तो अच्छी बात है यदि नहीं पता है तो आप इस लेख में इसकी सारी जानकारी ले सकते है .


दोस्तों इसका खास तौर पर उपयोग Keybourd ,MOUSE, Mice,Game , Controllers , Printers , Scanner , camara , Charger , LED TV others removal media drive को connect करने के लिए किया जाता है .


कुछ USB hub की मदद से आप 127 बाहरी device को एक single पोर्ट से connect कर सकते है . और आप एक ही बार में उसका उपयोग कर सकते है . दोस्तों इस काम को करने में आपको निपुण होना बहुत जरुरी है . USB सीरियल और पैरेरल पोर्ट पुराने पोर्ट से बहुत fast भी है .


दोस्तों USB कई प्रकार के external device को कंप्यूटर से connect करने के लिए उपयोग किये जाने वाले केबल और connectors के प्रकारों को सन्दर्भ करता है . चलिए guys आगे what is USB ? के बारे में जानते है

USB Kya Hai Or USB Ki Full Form Kya Hai ?

USB full form

दोस्तों वैसे तो आप दिन चर्या में usb केबल को बहुत बार प्रयोग करते हो . यदि आपसे कभी किसी ने पूछ लिया की USB की फुल फॉर्म बताओ आप वहां पर चूंक सकते है . guys यह इसे नार्मल topic है जिसकी information आपको होनी ही चाहिए . दोस्तों USB की फुल फॉर्म Universal Serial Bus है . guys यह आपके बहुत काम आने वाला question भी बन सकता है .

USB क्या है ?

USB (Universal Serial Bus ) यह एक सबसे fast लोकप्रिय कनेक्शन है जो की कंप्यूटर camara,Printer Scanner , और hard drive जैसे device को connect करने के लिए और उनसे डाटा आदान प्रदान करने के लिए सझम है .

Read More Article :- Computer ki Full Form Kya hai

Read More Article :- Server Kya HAI

USB एक cross plateform technology है जो अधिकांश प्रमुख operating System द्वारा supported है. Windows पर इसका उपयोग 98 और higher version पर ही किया जा सकता है .

USB एक Hot swaipable technology है जिसका इस्तेमाल हम लैपटॉप या कंप्यूटर में without restart किये कभी भी use कर सकते है . और कभी भी इसे remove किया जा सकता है . लैपटॉप में कोई दिक्कत नहीं होती है .

USB ”Plug and play ” भी है . जब आप अपने लैपटॉप में एक USB device को connect करते है तो आमतौर पर window इस device का पता लगा लेता है और यहाँ तक की उसके लिए जो भी ड्राईवर इनस्टॉल होना चाहिए वह भी इनस्टॉल करता है .

USB के बारे में अधिक जानकारी

यूनिवर्सल सीरियल बस एक बहुत ही अच्छा रास्ता है जिससे लोग बहुत काम आसानी के साथ कर सकते है . USB पोर्ट और केबल का उपयोग हार्डवेयर को connect करने के लिए किया जाता है . जैसे कि printer , Scanner , Keybourd , Joystick , Camara , blutooth , LCD TV और भी बहुत ऐसे product जो की कंप्यूटर से डाटा आदान प्रदान करते है .

USB का उपयोग इतना ज्यादा हो चुका है कि आपको लगभग किसी भी व्यक्ति पर आसानी से मिल सकता है . और आजकल लोग advance हो गए है तो इनका उपयोग करना तो लाज़मी सा है .

आजकल आपने देखा होगा की कोई भी चार्जर , फ़ोन , tablet और others में एक चीज आपने कॉमन देखि होगी वह USB केबल . यहाँ तक की जो भी उपकरण अब आ रहे है वह USB से लैश आ रहे है . usb यहाँ तक की automobiles में भी connection मिल जायेगा .

USB के version

दोस्तों USB के version मुख्य रूप से 4 प्रकार के होते है .

  1. USB 1.1
  2. USB 2.0
  3. USB 3.0
  4. USB 3.1

USB 1.0

दोस्तों USB 1.1 बहुत ज्यादा fast तो नहीं but देखने के हिसाब से बहुत जल्दी फाइल को transfer कर सकता है . USB 1.1 device ज्यादा से ज्यादा 12 Mega Byts per second की speed से आपकी फाइल को transfer कर सकती है .

USB 2.0

दोस्तों USB 2.0 high speed कहा जाता है . दोस्तों इसकी speed बहुत high है . USB 2.0 device से ज्यादा से ज्यादा 480 Mega Bytes per second से फाइल को transfer कर सकता है .

USB 3.0

दोस्तों USB 3.0 को सुपर speed कहा जाता है . इससे आप अपनी फाइल को बहुत ही जल्दी transfer कर सकते है . USB 3.0 ज्यादा से ज्यादा 5 Giga Bytes per second ( 5120 ) MB per second की speed से फाइल को transfer कर सकती है .

USB 3.1

दोस्तों अब तक की सबसे best speed USB 3.1 की है इसे सुपर speed + कहा जाता है . इसकी ज्यादा से ज्यादा 10 Giga Byts per second ( 10240 ) MB per second की speed से फाइल को transfer कर सकती है .

USB Connectors क्या है ?


दोस्तों usb connectors बहुत types के होते है . USB connectors के बिना USB वर्क नहीं कर सकती हा . usb connectors USB को जिस पोर्ट में लगाया जाता है use ही USB पोर्ट को USB connectors कहते है . दोस्तों यह बहुत USB कनेक्टर मौजूद है दोस्तों इन सभी के बारे में नीचे details में बताऊँगा ….

1) USB Type A

USB standard A कहा जाता है . ये plug और रिसेपल्स आयताकार आकार में होता है . यह सबसे ज्यादा अधिक देखें जाने वाला USB Connectors है . USB 1.1 type A , USB 2.0 type A , or USB 3.0 A plug में use किया जाता है . दोस्तों इसे आप अपने चार्जर cable, Pan drive , hard drive में देख सकते है दोस्तों यही USB type A होता है guys यह सबसे ज्यादा use होने वाला USB type है जिसका इस्तेमाल हर वह व्यक्ति करता है जो की फ़ोन को चार्ज करता है .

2) USB type B

दोस्तों यह ज्यादा use नहीं होता है .यह आपको कॉमन Modems में कुछ specific सीरीज में देखने के लिए मिलत है दोस्तों आप उसकी शेप देख सकते है

3) USB type C

दोस्तों अक्सर USB Type – C के रूप में संदर्भित किया जाता है . यह plug or receptacles four roundad Corner के साथ आयताकार होते है . यह 3.1 प्रकार C plug Receptedkals मौजूद है . यह बिलकुल ही responsive तरीके से use कर सकते है . दोस्तों वैसे तो USB Type के बहुत सारे फायदे है USB Type C 3.1 पर कार्य करता है . इसकी speed की बात करें तो 10 GB per second से डाटा को transfer करने में सझम है .

Micro USB A

दोस्तों जो आप अपने फ़ोन में use करते हो वह ही Micro USB होता है but वह type A का माइक्रो USB होता है न की type B का .. USB 3.0 Micro A plug एक साथ साथ जुड़े हुए दो अलग अलग आयताकार की शेप में दिखाई देते है . जो की दुसरे की तुलना में थोडा सा लम्बे है . USB 3.0 माइक्रो AB

Micro USB B

USB 2.0 Micro – B plug USB 3.0 माइक्रो A plug के समान ही दिखाते है . जिसमें वे दोनों अलग अलग जुड़े हुए रूप में दिखाई देते है . USB 3.0 माइक्रो B रिसेप्टेकल्स  और USB 3.0 माइक्रो AB रिसेप्टेक दोनों के साथ कम्पेटिबल है .

USB mini A

USB 2.0 mini A plug का आकार में आयताकार है but एक तरफ ज्यादा goal है . USB MINI A plug केवल USB MINI AB रिसेप्टेकल्स के साथ कम्पेटिबल है . कोई USB 3.0 MINI A connector नहीं है .

USB MINI B

USB 2.0 MINI A plug आकार में आयताकार होता है . USB MINI B plug USB 2.0 MINI B और Mini AB रिसेप्टेक दोनों के साथ figically कम्पेटिबल है . कोई USB 3.0 mini B connector नहीं है .

दोस्तों आपके device में USB पोर्ट की मात्रा और प्रकार निर्माता और मोडल पर ही निर्भर होती है .

ज्यादातर लैपटॉप में आपने देखा होगा कि 4 USB पोर्ट पीछे की तरफ रहते है . और 2 आसान पहुँच के लिए सामने की और स्थित होते है . दोस्तों आप अपने लैपटॉप में और भी USB पोर्ट के लिए कोई external USB पोर्ट खरीद सकते है . जिससे आपके लैपटॉप में भी अतिरिक्त device connect करने में आपको सहायता मिलेगी . guys इससे आपके लैपटॉप के जो USB पोर्ट है वह सेफ भी रहेंगे .. आप external USB की मदद से कई सरे device एक साथ connect कर सकते है .

USB पोर्ट कैसे काम करता है


आज यदि आप किसी लैपटॉप को buy करते हो तो आपको उसमें usb पोर्ट मिलते है उनका प्रयोग आप बहुत से USB कार्यो में कर सकते है . USB connectors Mouse , Printer और others सामान को आपके computer से जल्दी और आसानी से अटैचमेंट करने की सुविधा देते है .
operating System USB को सपोर्ट करता है . इसलिए device ड्राइवर्स का इनस्टॉल होने में कोई दिक्कत नहीं होती है . अपने कंप्यूटर में device को connect करने के लिए parallel पोर्ट्स , सीरियल पोर्ट्स और विशेष कार्ड जिसे आप अपने कंप्यूटर के केस में लगा सकते है . और इनस्टॉल भी कर सकते है . यह बहुत ही सरल है .

Conclusion

दोस्तों आशा है की आपको what is USB ? यह लेख समझ में आया होगा . दोस्तों मेरी पहले से ही एक ही सोच रही है की किसी के बारे में फुल details देना . guys कभी कोई स्टूडेंट एक topic को search करके आता है और use सिर्फ उसी के बारे में मिलें एसा मुझे अच्छा नहीं लगता . use उसी के बारे में वह सबकुछ मिल जाये जो use वाकई ही चाहिए तो इस तरह स्टूडेंट का टाइम भी बचाता है . जिसके साथ वह और भी काम कर सकता है . दोस्तों यदि आपको इस लेख में कहीं कुछ मिस्टेक मिली हो तो कृपया कमेंट करके बता सकते है में use edit करके और अच्छा लेख लिखूंगा .

दोस्तों यदि आपको यह अर्त्क्ले पसंद आता है तो आप इसे social media जैसे facebook , Twitter and whatsapp जैसे network पर शेयर कर सकते है .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here